सास-बहू की लड़ाई में फंस गई थी सहवाग की जर्सी, इसलिए बिना नंबर के खेले

सचिन तेंदुलकर या फिर महेंद्र सिंह धोनी की तरह सहवाग (Virender Sehwag) की जर्सी पर हमेशा कोई एक नंबर नहीं लिखा रहता था. वो करियर के शुरुआती दिनों में अलग-अलग नंबर की जर्सी के साथ बैटिंग के लिए आते थे.

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *